Kejriwal Government In Delhi Increased Beds For Corona Patients In Hospitals ANN

0
4

COVID 19: दिल्ली में पिछले 24 घंटे में 10,665 कोरोना के नये मामले सामने आये हैं, जिसके बाद से एक्टिव कोरोना मरीज़ों की संख्या अब 23,307 पर पंहुच गयी है. संक्रमण दर की बात करें तो ये दर भी बढ़कर 11.88 फीसदी हो गयी है, जो पिछले क़रीबन 7 महीने में सबसे ज्यादा है. इस बीच मौत का आंकड़ा भी दिल्ली में अचानक से आज बढ़ा हुआ नज़र आया, पिछले 24 घंटे में दिल्ली में 8 मरीजों की कोरोना से मौत हुई है, 26 जून के बाद ये मौत का सबसे बड़ा आंकड़ा है.

26 जून को 9 मरीजों की मौत हुयी थी. तेज़ी से बढ़ते इन मामलों को देखते हुये दिल्ली सरकार ने भी तैयारियां अब तेज कर दी है. दिल्ली में पाबंदियों के साथ सरकार अब अस्पतालों में कोविड मरीज़ों के लिये बेड बढ़ाने के तैयारियों में जुट गयी है. इसी को ध्यान में रखते हुये दिल्ली सरकार ने अपने 9 सरकारी अस्पतालों में कोरोना मरीज़ों के लिये करीबन 1000 रिज़र्व बेड्स की संख्या बढ़ाने के निर्देश जारी कर दिए हैं, जिसके बाद अब कोरोना मरीज़ों के लिये रिज़र्व बेड की कुल संख्या 3316 बेड से बढ़ाकर 4350 बेड की कर दी गयी है. 

जिन 9 अस्पतालों में बेड बढ़ाये गये हैं उनका ब्योरा इस प्रकार है

1. इंदिरा गांधी हॉस्पिटल- 1181 बेड्स से बढ़ाकर 1500 बेड्स
2. लोक नायक हॉस्पिटल + गुरु नानक आई सेंटर+ रामलीला मैदान- 650 से बढ़ाकर 750 बेड
3. गुरु तेग बहादुर हॉस्पिटल + रामलीला मैदान- 600 से बढ़ाकर 750 बेड्स
4. बुराड़ी हॉस्पिटल- 300 से बढ़ाकर 400
5. राजीव गांधी सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल- 150 से बढ़ाकर 300
6. अंबेडकर नगर हॉस्पिटल – 135 बेड्स से बढ़ाकर 200
7. दीन दयाल उपाध्याय हॉस्पिटल- 100 से बढ़ाकर 150 बेड्स
8.  दीपचंद बंधु हॉस्पिटल – 100 से बढ़ाकर 150 बेड्स
9. डॉ बाबा साहेब अंबेडकर हॉस्पिटल- 100 बेड्स से बढ़ाकर 150 बेड्स

इसके साथ ही इन सभी अस्पतालों के MS/MD/डायरेक्टर को यह भी निर्देश दिया गया है कि जरूरत के हिसाब से मैन-पावर, इक्विपमेंट आदि का भी इंतज़ाम जल्द से जल्द कर लें ताकि मरीज़ों को कोई परेशानी ना आये. इससे पहले दिल्ली सरकार ने उन सभी प्राइवेट और नर्सिंग होम को 40% बेड कोविड मरीज़ों के लिये रिज़र्व रखने के आदेश जारी किये हैं, जिन अस्पतालों में 50 या उससे ज्यादा बेड उपलब्ध हैं.

इसे भी पढ़ेंः
दिल्ली में आज आए कोरोना के डराने वाले आंकड़े, 10 हजार 665 लोग हुए संक्रमित, 8 मरीजों की मौत

दरअसल दिल्ली सरकार अब इस कोशिश में जुट गयी है कि जल्द से जल्द अस्पतालों में बेड बढ़ा दिये जाएं, ताकि अस्पताल को ज़रूरत पड़ने पर मरीज़ों को कोई परेशानी ना झेलनी पड़े, हालांकि दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येन्द्र जैन के एक बयान के मुताबिक़ अभी दिल्ली के अस्पतालों में 2 से 3 प्रतिशत तक ही बेड भरे हुये हैं, जबकि बाक़ी मरीज़ होम आइसोलेशन में है, ऐसे में फ़िलहाल अस्पतालों में बेड की कमी को लेकर चिंता करने की कोई ज़रूरत नहीं है.

इसे भी पढ़ेंः
कैसे क्रैश हुआ General Bipin Rawat का Helicopter, वायुसेना की ‘प्रोग्रेस रिपोर्ट’ में हुए ये खुलासे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here