Ind vs nz 2nd test indian spinners eye on wankhede greenish pitch after the kanpur draw

0
29

नई दिल्ली. भारत और न्यूजीलैंड (India vs New Zealand) के बीच सीरीज का पहला टेस्ट मैच कानपुर के ग्रीनपार्क मैदान पर खेला गया. यह टेस्ट मैच ड्रॉ रहा और इसमें भारतीय स्पिनरों को न्यूजीलैंड के बल्लेबाजों के खिलाफ खासी मेहनत करनी पड़ी. स्पिनरों की कड़ी कोशिशों के बावजूद रचिन रवींद्र (Rachin Ravindra) और ऐजाज पटेल (Ajaz Patel) ने टेस्ट को ड्रॉ तक पहुंचा दिया. मेजबान टीम की अंतिम विकेट ने भारत को जीत से वंचित कर दिया. अब भारतीय स्पिनर वानखेड़े (Wankhede Stadium) में गेंदबाजी करने के लिए तैयार हैं. भारत और न्यूजीलैंड के बीच सीरीज का दूसरा और अंतिम मैच 3 दिसंबर से मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेला जाएगा.

टीम इंडिया के स्टार स्पिनर रविचंद्रन अश्विन (Ravichandran Ashwin) और उनके साथी स्पिनरों की नजरें अब भारत बनाम न्यूजीलैंड (IND vs NZ) के बीच होने वाले दूसरे टेस्ट की पिच वानखेड़े पर हैं. मुंबई की पिच अतिरिक्त उछाल के लिए जानी जाती है. यह भारतीय स्पिन आक्रमण की ताकत है. हालांकि, पहला टेस्ट रोमांचक मोड़ पर आकर ड्रॉ रहा था. भारत के गेंदबाजों ने कानपुर की पिच के खिलाफ आश्चर्यजनक गेंदबाजी की. न्यूजीलैंड के लिए मुख्य चुनौती रविचंद्रन अश्विन साबित हुए. कानपुर की पिच पर वह ज्यादा प्रभावशाली साबित हुए, उनकी हाइट ने उन्हें अतिरिक्त लाभ पहुंचाया था.

IND vs NZ 2nd Test : मुंबई टेस्ट पर संकट के काले बादल! बुधवार के मौसम ने और बढ़ा दी सिरदर्दी

पिच पर बताई जा रही मोटी घास की परत
टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक, ”पिच पर घास की मोटी परत है. गेंद ज्यादा टर्न नहीं करेगी. ऐसा लगता है कि घास लंबी हो गई है, क्योंकि जनवरी 2020 में भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच वनडे के बाद से वानखेड़े स्टेडियम में मुख्य तीन पिचों पर कोई क्रिकेट नहीं खेला गया है. उस घास में से कुछ को काट दिया जाएगा, लेकिन इस स्तर पर, जब टेस्ट मैच बस कुछ ही दिन दूर है, आप ज्यादा घास नहीं काट सकते. नतीजतन, रविवार से पिच पर पानी देना बंद कर दिया है.” बारिश की भविष्यवाणी के साथ क्यूरेटर का काम और भी चुनौतीपूर्ण हो जाता है. ऐसे में सूत्र ने कहा, ”यह घास और विकेट पर नमी लाएगा. शुरुआत में विकेट तेज गेंदबाजों की मदद करेगा, खेल में सुबह की नमी के साथ, लेकिन फिर यह एक अच्छा बल्लेबाजी ट्रैक बन जाएगा. इसमें अच्छा उछाल और कैरी होगा.”

वानखेड़े हैं स्पिनरों का पसंदीदा मैदान
चेन्नई के एमए चिदंबरम स्टेडियम के साथ ही वानखेड़े भी स्पिनरों का पसंदीदा मैदान है. तमिलनाडु का यह गेंदबाज टेस्ट क्रिकेट में तीसरा सबसे अधिक विकेट लेने वाला गेंदबाज बन चुका है. अश्विन के नाम 419 विकेट हैं. दोनों ही मैदानों पर वह 30-30 विकेट ले चुके हैं, लेकिन मुंबई में उनका औसत (21.93) और स्ट्राइक रेट (42.03) बेहतर है.

ICC Test Rankings: विराट-रोहित को कानपुर टेस्ट से ‘आउट’ होने का नुकसान नहीं, अश्विन भी टॉप-5 में बरकरार

वानखेड़े स्टेडियम में 5 साल बाद खेला जाएगा टेस्ट मैच
वानखेड़े स्टेडियम 5 साल बाद अपने पहले टेस्ट मैच की मेजबानी करेगा. पिछली बार जब इस मैदान पर टेस्ट मैच खेला गया था तो विराट कोहली (Virat Kohli) ने इंग्लैंड के खिलाफ 235 रन बनाए थे. मुरली विजय और जयंत यादव ने भी शतक बनाया था. वानखेड़े में 2016 में इंग्लैंड के खिलाफ खेल गए आखिरी टेस्ट में स्पिनर्स ने 20 में से 19 विकेट लिए थे. मैच की दोनों पारियों में अश्विन ने 6-6 विकेट लिए थे. अश्विन और रवींद्र जडेजा ने पहली पारी में 10 विकेट बांटे थे. जडेजा के हिस्से 4 विकेट आए. वानखेड़े की पिच आशीष भौमिक की निगरानी में तैयार हुई है. वह बीसीसीआई के क्यूरेटर पैनल के प्रमुख हैं.

कानपुर पिच पर राहुल द्रविड़ ने जताई थी हैरानी
कानपुर टेस्ट के ड्रॉ होने के बाद भारत के नए कोच राहुल द्रविड़ ने कानपुर पिच पर आश्चर्य व्यक्त करते हुए कहा था, ”पिच पर गेंदें नीची रह रही थीं, लेकिन पिच पर कोई बाउंस नहीं था और न ही टर्न था. जबकि आप इसकी उम्मीद करते हैं. न्यूजीलैंड के अंतिम बल्लेबाजों रचिन रवींद्र और ऐजाज पटेल ने 8.4 ओवर बल्लेबाजी की और भारत को जीत से दूर कर दिया.

Tags: Cricket news, IND vs NZ, IND vs NZ 2021, India vs new zealand, India vs New Zealand 2021, Virat Kohli, Wankhede

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here