DGGI Will Get FD Of 177 Crore 45 Lakhs Found In Piyush Jain Raid Ann

0
4

Piyush Jain Raid: इत्र कारोबारी पीयूष जैन के कानपुर के घर से जीएसटी इंटेलिजेंस ने 177 करोड़ 45 लाख रुपये बरामद किए हैं. डायरेक्टर जनरल ऑफ जीएसटी इंटेलिजेंस (Directorate General of GST Intelligence) ने ये जो नकदी कारोबारी के घर से ज़ब्त की है उसे एफडी (फिक्स डिपॉजिट) कराएगी. आपको बता दें कि कर चोरी के मामले में पीयूष जैन को गिरफ्तारी के बाद न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है. उनके घर से अघोषित नकदी के अलावा 23 किलोग्राम सोना एवं अन्य कीमती सामान जब्त किया गया है.

केंद्रीय वित्त मंत्रालय ने सोमवार को जारी एक बयान में कहा था कि पान मसाला (गुटखा) एवं इत्र कारोबारी पीयूष जैन के कानपुर स्थित आवास से 177.45 करोड़ रुपये की अघोषित नकदी मिली है. मंत्रालय के मुताबिक, यह किसी भी ठिकाने से बरामद एवं जब्त की गई अब तक की सबसे बड़ी अघोषित नकदी है.

इसके अलावा कारोबारी के कन्नौज स्थित ठिकानों (आवासीय और कारखाना परिसर) से भी तलाशी दल को करीब 17 करोड़ रुपये की नकदी मिली थी. इस कारोबारी के ठिकानों पर माल एवं सेवा कर (जीएसटी) अधिकारियों की तलाशी के दौरान इतनी बड़ी मात्रा में अघोषित नकदी एवं सोना पकड़ा गया है.

जीएसटी आसूचना महानिदेशालय (डीजीजीआई) की अहमदाबाद इकाई ने कर चोरी के आरोप में 22 दिसंबर को जैन के ठिकानों की तलाशी शुरू की थी. जैन के ठिकानों से 23 किलोग्राम सोना और बड़ी मात्रा में इत्र संबंधी कच्चा माल भी मिला है. इनमें 600 किलोग्राम से अधिक चंदन का तेल भी शामिल है. सोने और चंदन का तेल उसके घर के तहखाने से बरामद किया गया. इसका बाजार मूल्य करीब छह करोड़ रुपये है.

झारखंड की Hemant Soren सरकार का बड़ा फैसला, एक लीटर पेट्रोल पर घटाये 25 रुपए

Omicron: Delhi से Gujarat और Chhattisgarh से Tamil Nadu तक, Corona को लेकर कहां कैसे हैं प्रतिबंध

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here