Delhi Four Accused Held For Cheating Aspirants On Promise Work From Home Jobs Extort Money On Target Impossible To Complete ANN

0
50

Delhi Crime: दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल साइबर क्राइम यूनिट ने एक ऐसे गिरोह का भंडाफोड़ किया है, जो नौकरी तलाश रहे लोगों को वर्क फ्रॉम होम का लालच देकर अपने चंगुल में फंसाते थे और फिर उन्हें इतना काम सौंप देते थे कि वे अपना टारगेट अचीव न कर पाए. इसके बाद ये ठग उन लोगों को धमकाते थे कि तुमने अपना टारगेट अचीव नहीं किया है, इसलिए पेनाल्टी देनी होगी.

साथ में ये भी धमकी देते थे कि अगर पेनाल्टी नहीं दोगे, तो अदालत का रास्ता अपनाना पड़ेगा. इस डर की वजह से वे लोग इन ठगों को पेनाल्टी के तौर पर अच्छी खासी रकम देते थे. इस गिरोह ने देशभर में बड़ी संख्या में लोगों को चूना लगाया है. पुलिस ने इस गिरोह के चार लोगों को गिरफ्तार किया है, जिनमें एक महिला भी शामिल है. इनके पास से 4 मोबाइल फोन और बैंक एकाउंट की पासबुक बरामद की गई है. आरोपियों के नाम आर कुमार, एम सिंह और टी कुमार है. इनके साथ एक महिला भी गिरफ्तार की गई है. आर कुमार ठगी का मास्टरमाइंड है. सभी आरोपियों की उम्र 23 साल से 25 साल के बीच है.

क्या है मामला?

साइबर सेल के डीसीपी केपीएस मल्होत्रा ने बताया कि साइबर क्राइम यूनिट को न केवल दिल्ली-एनसीआर बल्कि देश के कई हिस्सों से ऑनलाइन शिकायतें मिली, जिनमें शिकायतकर्ताओं ने बताया कि इन वेबसाइट https://theresumesearch.com, https://www.jobsearchnet.in और https://resumetofill.com के माध्यम से उनके साथ ठगी की गई है.

उन्होंने अपने रिज्यूम इन वेबसाइट पर डाले थे, जिसके बाद उन्हें वर्क फ्रॉम होम के संबंध में कॉल आई थी. उन्हें बताया गया कि डाटा एंट्री ऑपरेटर व कंप्यूटर से जुड़े काम आपको घर बैठे ही करने हैं. आपको आपके काम का एक टारगेट दिया जाएगा, जिसे पूरा करना है और अगर टारगेट पूरा हो जाता है, तो आपको उसके बदले में पैसा दिया जाएगा. अगर टारगेट पूरा नहीं कर पाए, तो आपको पेनाल्टी देनी होगी. इसके बाद ये ठग लोगों को इतना काम सौंप देते, जो पूरा होना असंभव था. जो लोग इनके चंगुल में फंस जाते वे दिन-दिन भर मेहनत करने के बावजूद टारगेट को पूरा नहीं कर पाते थे.

अब तक 60 लोगों ने दी है शिकायत

इसके बाद ये ठग उन्हें पेनाल्टी देने के लिए कहते. अगर कोई पेनाल्टी देने से इनकार करता, तो उसे डराया धमकाया जाता था. उनसे कहा जाता था कि अगर वे सीधे तरीके से पेनाल्टी नहीं देंगे, तो अदालत का रास्ता अपनाना होगा. इस डर की वजह से लोग इन्हें हजारों रुपये दे दिया करते थे.

पुलिस का कहना है कि फिलहाल 60 शिकायतकर्ता सामने आ चुके हैं और देशभर से बड़ी संख्या में शिकायत आने की संभावना है. पुलिस लोगों से यही अपील करती है कि जब भी कोई नौकरी आदि का प्रस्ताव मिले, तो उस कंपनी या फर्म या संगठन के बारे में अच्छी तरह जानकारी जुटाएं.

All Party Meet: सर्वदलीय बैठक के बाद बोले कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे- हमें डर है कि कृषि बिल फिर से आएगा

UPTET Paper Leak: CM योगी का कड़ा संदेश, बोले- घर पर बुलडोजर चलना तय, रासुका के तहत कार्रवाई और संपत्ति होगी जब्त

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here