Coronavirus: Health Ministry To Conduct Meeting With States On Vaccination Of Children’s

0
3

Coronavirus Vaccination: देश में जानलेवा कोरोना वायरस (Covid 19) के मामले बढ़ते जा रहे हैं. बड़ी बात यह है कि अब वायरस के सबसे खतरनाक वेरिएंट ओमिक्रोन (Omicron) से भी बड़ी संख्या में लोग संक्रमित हो रहे हैं. ये वेरिएंट बाकी वेरिएंट्स की तुलना ज्यादा तेजी से फैलता है. राज्यों में कोरोना की ताजा स्थिति को लेकर आज केंद्रिय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बड़ी बैठक बुलाई है. बैठक में बच्चों के वैक्सीनेशन पर भी चर्चा होगी.

केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव आज सुबह 11:30 बजे राज्यों के साथ कोरोना पर बैठक करेंगे. बैठक में ओमिक्रोन वेरियंट और स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से जारी नई गाइडलाइन पर चर्चा होगी. इस बैठक में इस बात पर भी चर्चा होगी कि नई गाइडलाइन के तहत किस तरह से बच्चों का वैक्सीनेशन किया जाएगा.

केंद्र ने वैक्सीनेशन में तेजी लाने की सलाह दी

इससे पहले कल केंद्र ने चुनाव वाले राज्यों को सलाह दी कि वे समस्त पात्र आबादी को कोरोना वायरस टीके की पहली खुराक देने में तेजी लाएं और यह सुनिश्चित करें कि जिन्हें दूसरी खुराक नहीं मिली है, उन्हें वह दी जाए. चुनाव वाले राज्यों को जांच में तेजी लाने की भी सलाह दी गई है ताकि संक्रमितों की तुरंत पहचान कर सार्वजनिक स्वास्थ्य प्रतिक्रिया उपायों को समय पर शुरू किया जा सके.

केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने पांच राज्यों उत्तराखंड, गोवा, मणिपुर, उत्तर प्रदेश और पंजाब के साथ एक उच्च स्तरीय बैठक की, जिसमें इन राज्यों में कोरोना की रोकथाम और प्रबंधन के लिए सार्वजनिक स्वास्थ्य प्रतिक्रिया उपायों और टीकाकरण की स्थिति की समीक्षा की गई. बयान में कहा गया है कि एक ओर उत्तराखंड और गोवा का पहली और दूसरी खुराक देने का औसत राष्ट्रीय औसत से अधिक बताया गया है, तो दूसरी तरफ उत्तर प्रदेश, पंजाब और मणिपुर में टीकाकरण की दर राष्ट्रीय औसत से कम है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here